train ka avishkar kisne kiya / ट्रेन का आविष्कार किसने और कब किया

 ट्रेन का आविष्कार किसने किया और कब किया ?

हम सब लोग अपने जीवन में कभी ना कभी रेल से सफर जरूर किया होगा तो चलिए आज आपको बताते हैं ट्रेन का आविष्कार किसने किया,

कौन थे ट्रेन के अविष्कारक कैसे बनी रेल और क्या है इसका इतिहास चलिए हम आपको बताते हैं

train ka avishkar kisne kiya
train ka avishkar kisne kiya 2021



पहला कोशिश रेल के दिशा में ?

Richard Trevithick (13 April 1771 – 22 April 1833) ये वही नाम है जिनको श्रेय जाता है ट्रेन को पहली बार बना के चलाने लगे 

यह ब्रिटिश आविष्कारक थे साथ में ये एक माइनिंग इंजीनियर के तौर पर कहीं काम करते थे, रिचर्ड एक माइनिंग कप्तान के बेटे थे और बचपन में ही माइनिंग और इंजीनियरिंग में लग गए,  स्कूल में कुछ अच्छा परफॉर्मेंस नहीं कर पाए मगर स्टीम रोड और रेल पासपोर्ट में आगे रहे,  इनका मुख्य योगदान था हाई प्रेशर स्टीम इंजन,  साथ में ही इन्होंने पहला पुल स्केल वर्किंग स्टीम लोकोमोटिव,  जिसका चलते पहली लोकोमोटिव हार्ड रेलवे जर्नी शुरू हुई 21 फरवरी 1804 जो हुई जब रिचर्ड के स्टीम लोकोमोटिव मैं एक ट्रेन को खींचा Penydarren Ironworks, Merthyr Tydfil, Wales में |

train ka avishkar kisne kiya tha uska naam
train ka avishkar kisne kiya



और इसके बाद इंजीनियर लोगों ने ट्रेन बनाने का प्रयास किया और विश्व की पहली सफल रेल 27 सितंबर 1825 को George Stephenson  के द्वारा बनाई गई पहली  बनाई गई पहली रेल ट्रेन का नाम इन्होंने लोकोमोशन रखा था

George Stephenson  पेशे से एक ब्रिटिश इंजीनियर थे


आप यह जान गए होंगे दुनिया का  सबसे पहला रेलवे इंजन में इधर के तौर पर भाप का इस्तेमाल किया गया था  तो चलिए जानते हैं इनका उपयोग कब और कैसे किया गया थादुनिया के सबसे पहले ट्रेन जो डीजल से चलती थी


 उसका निर्माण साल 1912 में स्विट्ज़रलैंड मैं किया गया था हालांकि इससे पहले बिजली से चलने वाली ट्रेन इंजन बना लिया गया था और ऐसे मैं दुनिया का पहला बिजली से चलने वाले रेलवे इंजन बनाने के श्रेय स्काटलैंड के रसायनज्ञ  Robert Davidson  को दिया जाता था जिन्होंने साल 1837 में इसे बनाया था इस इंजन को बैटरी से संचालित किया जाता था

train ka avishkar kisne kiya 2021
train ka avishkar kisne kiya 2021



भारत में पहली ट्रेन कब चली थी

भारत में पहली रेलगाड़ी मुंबई से कहां तक चली थी  भारत में सबसे पहले ट्रेन 16 अप्रैल 1853 को मुंबई के ठाणे के बीच चली थी जिसे अंग्रेजों द्वारा चलाया गया था इस तरह से देखा जाए तो इंडिया में रेल का इतिहास काफी पुराना है हालांकि इतना पुराना इतिहास होने के बावजूद भारतीय रेल का राष्ट्रीयकरण आबादी के कुछ साल बाद 1951 में हुआ था अब भारतीय रेल नेटवर्क इतना बड़ा हो गया है कि इसकी गिनती पूरी दुनिया के सबसे बड़े रेल नेटवर्क में होता है


तो अब आप जान गए होंगे कि ट्रेन का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ वैसे वैसे देखा जाए तो इतिहास की पुरानी ट्रेन और आज का आधुनिक रेल में जमीन आसमान का अंतर दिखाई देता है क्योंकि जिस समय ट्रेन का आविष्कार हुआ था तब इतनी स्पीड नहीं थी 10 से 15 किलोमीटर प्रति घंटा होती थी 


लेकिन अगले इतनी विकसित हो चुकी है उनकी स्पीड 500 किलो मीटर प्रति घंटा जा सकते हैं जिन्हें बुलेट ट्रेन के नाम से जाना जाता है सबसे पहले जिस ट्रेन को बनाया गया था उसने केवल के तौर पर धान का इस्तेमाल किया जाता था लेकिन अब दुनिया का अधिकतर ट्रेन बिजली से चल रही है

train ka avishkar kisne kiya tha uska naam
train ka avishkar kisne kiya tha uska naam 



भारत में प्रथम विद्युत रेल कब चली ?

3 फरवरी 1925 को भारत से पहले बिजनेस ट्रेन में चली रेलवे में या सेवा मुंबई सिटी से कुर्ला के बीच की थी

IRCTC Magic Autofill

हमें उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल पढ़ने में मजा आया होगा उम्मीद करता हूं कि आप समझ गए हैं तो एक कमेंट जरूर करें आपके एक कमेंट से हमको मोटिवेशन मिलता है और कुछ नया करने का उत्साह होता है कमेंट में बताएं आपको कैसा लगा


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ