mobile ka avishkar kisne kiya 2021

आज के समय में मोबाइल के बिना जीना असंभव सा लगता है मोबाइल का आविष्कार इंसानों के द्वारा की गई सबसे बड़ी उपलब्धि है मोबाइल ने सिर्फ दूर बैठे लोगों को संचार के माध्यम से एक दूसरे से जुड़े रहने के काबिल बना दिया बल्कि टेक्नोलॉजी कि इस दुनिया में इंसानों के लिए और भी कई सारे रास्ते खोल दिए हैं

 

जिससे लोगों की जिंदगी आसान हो गई है आज के समय में खींचने के लिए मैप द्वारा किसी रास्ते को ढूंढने के लिए फोन Wallet द्वारा पैसों के लेनदेन के लिए और मनोरंजन गेमिंग इत्यादि सभी चीजों के लिए करता है सुबह आंखखुलने से लेकर रात को नींद लगने तक लोग अपना ज्यादातर समय मोबाइल पर ही बिताते हैं ऐसे में मन में एक ख्याल तो अवश्य आता होगा कि आखिर mobile ka avishkar kisne kiya अगर आप भी यही जानना चाहते हैं तो आज हम आपको किसी चीज के बारे में बताने वाले हैं


 मोबाइल का आविष्कार किसने किया

mobile ka avishkar kisne kiya
mobile ka avishkar kisne kiya



मोबाइल का आविष्कार 3 अप्रैल 1973 को मार्टिन कपूर ने किया था उस समय मोटोरोला कंपनी के एक शोधकर्ता और कार्यकारी बता दें कि मार्टिन ने मोबाइल फोन से पहले कॉल अपने प्रतिद्वंदी बैल लेबोरेटी का इंजीनियर Dr. Joel S. Engel को लगाया था


मार्केटिंग कपूर द्वारा बनाए गए इस मोबाइल फोन का नाम सबसे पहले
Motorola Dyna TAC रखा गया था विश्व का यह पहला मोबाइल फोन कोई छोटा मोटा फोन नहीं था बल्कि इसका आकार 18 जितना बड़ा था मोटोरोला एक मोबाइल फोन की लंबाई लगभग 9 इंच लगभग (22.9 सेंटीमीटर) और वजन 1.1 किलोग्राम था यह फोन सेलुलर नेटवर्क की तकनीकी पर काम करता था

 

लेकिन इस मोबाइल से फुल चार्ज करने के बाद लगभग 30 से 40 मिनट तक बात हो सकती थी जबकि इसे फुल चार्ज करने में लगभग 10 घंटे का समय लगता था इस फोन की लागत भी अत्यधिक थी। इस फोन में और कुछ भी खामियां थी जिससे कि लोगों के बीच लाने से पहले लगभग एक दशक तक एक मोबाइल फोन की खामियों को दूर करने और इसके उत्पाद लागत को कम करने के ऊपर काम चलता रहा इसी बीच सेलुलर नेटवर्क को भी और सशक्त बनाया गया सन 1983 में इसे बाजार में लोगों के लिए उपलब्ध कराया गया और इस मोबाइल का नाम Motorola Dyna TAC 8000X रखा गया

सन 1983 में आये मोटोरोला Dyna TAC 8000X नामक इस फोन की कीमत 39 95 डॉलर आज के समय में लगभग 2.80 लाख रुपए इस मोबाइल की बैटरी लगभग 6 घंटे तक चलती थी जबकि इसे फुल चार्ज करने के लिए 30 - 40 मिनट तक बात कर सकते थे इतनी ही नहीं इस फोन में 30 लोगों के number सेव करने का सुविधा उपलब्ध था


फोन क्या है

फोन एक ऐसा यंत्र है जिसके माध्यम से दो व्यक्ति एक दूसरे से दूर होते हुए भी आपस में बातचीत कर सकते हैं अगर कोई व्यक्ति दूसरी दुनिया के एक कोई भी कोने में है और दूसरा दिन दुनिया के दूसरे कोने में भी बैठा हो वह फोन के माध्यम से एक दूसरे से जुड़े रह सकते हैं

वैसे तो फोन कई प्रकार के होते हैं लेकिन टेलीफोन के आविष्कार के बाद उसे छोटे आकार में बदलने और अधिक तकनीकी वह फ्यूचर के साथ तेज करने की सोच में ही फोन का जन्म दीया फोन टेलीफोन से काफी छोटे होते हैं और व्यक्ति हाथ में लेकर भी टेबल का सकता है और उसे अपनी जेब में रख कर कहीं पर भी बैठ उठ सकता है

फोन भी टेलीफोन की तरह एक प्रकार का कम्युनिकेशन डिवाइस होता है जिसके माध्यम से दो व्यक्ति आपस में बातचीत कर सकते हैं और खून के माध्यम से दो या दो से अधिक व्यक्ति एक दूसरे से दूर होते हुए भी बात कर सकते हैं

फोन एक ऐसा यंत्र होता है जो किसी भी प्रकार की आवाज मुख्य रूप से मानवीय आवाज को इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल में कन्वर्ट कर देता है जो केवल या इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तरंग जैसे माध्यमों दूसरे व्यक्ति तक पहुंचती है और दूसरा व्यक्ति तक पहुंचती है और दूसरा व्यक्ति पहले व्यक्ति का आवाज सुन पाता है


भारत
में मोबाइल कब आया था

जैसा की सभी बताया गया कि पहला मोबाइल फोन बाजार में 1983 में लांच किया गया था परंतु बात करें कि यह सिर्फ अमेरिका के बाजार में उपलब्ध था भारत में अगर बात करें तो पहले मोबाइल सर्विस भारत में सन 1995 में शुरू की गई थी उस समय सर्वप्रथम भारत के केंद्रीय दूरसंचार मंत्री श्री सुख राम ने 31 जुलाई 1995 को वेस्ट बंगाल के मुख्यमंत्री श्री ज्योति वासु ने मोबाइल पर बात की थी सबसे पहले इंसान यही थे भारत के जो फोन पर बात किए थे सबसे पहले भारत में वाया पहला मोबाइल का दिल्ली के संचार भवन कोलकाता की राइटर्स बिल्डिंग नेटवर्क हुआ था इस सेलूलर काल के बाद से ही कोलकाता में मोबाइल सेवा का संचालन शुरू किया गया था

भारत में उपलब्ध पहले मोबाइल सर्विस को
Modi Telstra's Mobile net सर के द्वारा उपलब्ध कराया गया था मोदी Telstra's भारत के मोदी समूह और ऑस्ट्रेलियाई टेलीकॉम दिग्गज कंपनी Telstra's का एक ज्वाइन वेंचर था Telstra's कंपनी उसने भारत के सेलुलर सेवाएं प्रदान करने के लिए लाइसेंस प्राप्त 8 कंपनियों में से एक थे


कितने
तरह के मोबाइल बाजार में उपलब्ध है

आज के समय में कुल 3 प्रकार के मोबाइल फोन बाजार में उपलब्ध है जो कि इस प्रकार है

1. सेल फोन | call phone.



सेल फोन

          सेल फोन

सेलफोन शुरुआती दौर में यह मोबाइल फोन ही थे इनमें कम एडवांस फ्यूचर होते हैं तथा इनका इस्तेमाल आसानी से किया जा सकता है इस फोन के मुख्य रूप से कॉल करना तथा टेक्स्ट मैसेज भेजना या किसी का मोबाइल नंबर SAVE करना यहां काम हो सकते हैं FM पर कुछ सुन सकते हैं कम फीचर की वजह से इंसान की कीमत बाजार में बहुत कम थी अब नई तकनीक से मोबाइल आ जाने से call phone की डिमांड बाजार में घट गई है यही वजह है कि अब यह फोन बाजार में कम ही देखने को मिलते हैं



2. फीचर फोन | Featura Phone

फीचर फोन

           Featura Phone   

फीचर फोन देखने में सेलफोन की तरह ही होते हैं लेकिन यह स्मार्टफोन से भी कुछ फ्यूचर विशेषताएं प्रदान करता है फीचर फोन में कॉल और टेक्स्ट मैसेज करने के अलावा कैमरे से फोटो खींचना वीडियो बनाना मोबाइल में गाने सुनना इंटरनेट चलाना वह मल्टीमीडिया के अन्य कुछ महत्वपूर्ण सेटिंग उपलब्ध है इनकी कीमत सेलफोन के मुकाबले ज्यादा रहते हैं परंतु यह स्मार्टफोन की अपेक्षा सस्ते होते हैं


3. स्मार्टफोन | Smart Phone

  
स्मार्टफोन

           Smart Phone


अब तो सभी सुविधाओं वाले पूर्ण रूप से फोन आ रहे हैं वे
स्मार्टफोन कहलाते हैं यह नई तकनीक का इस्तेमाल करते हैं इसमें एडवांस ऑपरेटिंग सिस्टम होते हैं जो मुख्य चार प्रकार के होते हैं जिस में शामिल है एडवांस Apple iso ब्लैकबेरी और विंडो आधारित मोबाइल फोन स्मार्ट फोन टच स्क्रीन सुविधा प्रदान करते हैं और इसमें 4G इंटरनेट Wifi कनेक्टिविटी HD कैमरा GPS और ऐसे ही कई एडवांस फ्यूचर होते हैं यह भी फ्यूचर इन्हें बाकी मोबाइल फोन से अलग बनाते हैं

internet ka avishkar kisne kiya 2021

camera ka avishkar kisne kiya 2021

vodafone ka malik kaun hai 2021

मोबाइल फोन से जुड़े इतिहास


1. अफ्रीकन पानी बिजली कनेक्शन से ज्यादा लोगों के पास मोबाइल फोन है
2. दुनिया का सबसे ज्यादा बिकने वाला मोबाइल फोन नोकिया 1100 इस हैंडसेट की 250 मिलियन यूनिट बिकी थी
3. वर्ष 2015 में लोग साथ मक्खी के हमले से ज्यादा मोबाइल फोन पर सेल्फी लेते हुए मरे हैं
4. चीन में मोबाइल पर इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले की जनसंख्या कम है कंप्यूटर पर इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले की जनसंख्या ज्यादा है
5. औसतन एक दिन में लगभग 100 बार से ज्यादा अपने स्मार्टफोन को अनलॉक करता है
6. Apple ने वर्ष 2018 में हर दिन लगभग 572000 मोबाइल फोन बेचे हैं

निष्कर्ष
यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. आपके इन्ही विचारों से हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिलेगा.


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ