Facebook बदला अपना नाम किया Meta मार्क जुकरबर्ग का ऐलान

Facebook बदला अपना नाम किया Meta मार्क जुकरबर्ग का ऐलान

Facebook बदला अपना नाम किया Meta मार्क जुकरबर्ग का ऐलान

 क्या Facebook हो गया है बंद Facebook की जगह काम करेगा (meta) जी हां Facebook के C.E.O मार्क जुकरबर्ग ने अपने प्लेटफ्रोम पे नाम को बदलने का ऐलान  कर दिया है अब साेशल मीडिया प्लेटफ्रोम पर Facebook को meta के नाम से जाना जाएगा। 


ऐसे में यह सवाल उठ रहा है कि जो लोग पहले से Facebook यूज कर रहे है क्या उन्हें कोई परेशानी होगी क्या Facebook को डिलीट कर के फिर से meta नाम के ऐप  dowanlod करके इसका इस्तेमाल कर पाएंगे या फिर उन्हे क्या क्या परेशानियां होंगी इस सम्बन्ध में हम आपको बताने वाले हैं सबसे पहले हम आपको बता दे  की जुकरबर्ग ने Facebook का नाम बदला क्यों है 


Facebook बदला अपना नाम

जी हां बदलने के पीछे का कारण क्या है इस सम्बन्ध में Facebook ने कहा है कि उसने Facebook का नाम (meta virus) के कारण बदला है। Meta virus की बात करे तो यह एक वर्चुल कंप्यूटर जनरेटेड स्पेस है जहां पर यूजर्स एक दूसरे के साथ आसानी से जुड़ सकते हैं यह स्पेस वर्चुल रिएलिटी तकनीकी पर आधारित है।


मार्क जुकरबर्ग का कहेना है कि meta virus के आने से यूजर को बहुत फायदा होगा इसमें यूजर को (पेरेंटल कंट्रोल) जैसे letest richer का सपोर्ट दिया जाएगा इसके अलावा  वर्चुल स्पेस में यूजर्स का निजी डेटा पूरी तरह से सुरक्षित  रहेगा  सबसे पहले आपकी जानकारी के लिए ये भी बताना ज़रूरी है कि Facebook को नए नाम का सुझाव उर्ब सीविक इन्टीग्रेटेड (chief) समिध चक्र वार्ती ने दिया था।


कुछ समय पहले  कंपनी के  C.E.O मार्क जुकरबर्ग ने वर्चुल रिएलिटी और अर्ग मेंटेड रिएलिटी में भारी निवेश किए थे। जिसके बाद से ही नाम बदलने के कयास लगाए जा रहे थे अब कम्पनी ने अपना नाम बदल लिया है इससे अब रोजगार के नए अवसर भी खुलेंगे। और एक वर्चुल दुनिया का निर्माण होगा कम्पनी के मुताबिक (meta virus) वर्चुल स्पेस को तीन (डायमेंशन) में प्लेस किया गया है 


नाम किया Meta मार्क जुकरबर्ग का ऐलान

जहां यूजर्स अपना अवतार बना सकते हैं ।   जो अपना प्रतिनिधित्व करेंगे। यह स्पेस दुनिया भर के यूजर्स वीडियो गेम खेलने फ़िल्म देखने, संगीत कार्यक्रम, में भाग लेने,सहकर्मियों के साथ जुड़े रहने में मदद करेगा इतना ही नही इस वर्चुल स्पेस में यूजर्स वैसे ही दोस्तों से मिल पाएंगे


जैसे वह आमने सामने मिलते थे। कम्पनी का मानना है कि इससे यूजर्स का अनुभव बेहतर होगा इसके अलावा( B.R Handset के ज़रिए यूजर्स आने वाले भविष्य में वर्चुल स्पेस में ट्रेवल भी कर पाएंगे।


आपको बता दें कि साेशल मीडिया कम्पनी Facebook से पहले साल (2016) में Google ने अपना नाम बदलकर  Alphabet  दिया था। जिसके तहत मौजूदा वक़्त में Google और उसकी सहायक कंपनियां काम कर रही हैं वहीं year 2016 में Snapchat ने भी अपना नाम बदलकरSnap inc. कर दिया था ऐसे ही कई कंपनिया अपने फायदे के लिए समय ,समय पर नाम बदलते रहते है

Facebook ने बदला अपना नाम

इसी के तहत Facebook  ने भी अपना  बदला है इससे वर्तमान यूजर्स पे कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है। आप बिल्कुल भी परेशान ना हों किसी का भी (Facebook) Account delete नहीं होगा उन्हे दोबारा कोई ऐप downlod करने की जरूरत नही होगी। बस उसी ऐप में बहुत सारे तकनीकी जुड़ जाएंगे। 

आप Facebook को और बेहतर तरीके से इस्तेमाल  कर पाएंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ